Kayakalp Yojana 2022: कायाकल्प योजना क्या है कैसे मिलेगा लाभ

Kayakalp Yojana 2022 | Kayakalp Yojana kya hai | कायाकल्प योजना प्राइमरी स्कूल | कायाकल्प योजना उत्तर प्रदेश | 

Kayakalp Yojana 2022: सरकारी स्कूलों का कायाकल्प करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीड़ा उठा लिया है और इसी क्रम में उन्होंने कायाकल्प योजना (Kayakalp Yojana 2022) का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत कानपुर ( देहात ) के 1933 सरकारी प्राथमिक और जूनियर स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित किया जायेगा

कायाकल्प योजना क्या है? Kayakalp Yojana 2022 

योगी सरकार ने परिषदीय विद्यालयों को ऑपरेशन कायाकल्प योजना के तहत संवारने का काम शुरू कराया है. इस योजना के तहत योगी सरकार ने कान्वेंट की तरह रंग रोगन कराकर विद्यालय को आकर्षक बनाने की कवायद शुरू की है, ताकि बच्चों में स्कूल जाने का उत्साह दिखे और स्कूल जाकर शिक्षा ग्रहण करने का काम बच्चे मन लगाकर करें.

कायाकल्प योजना प्राइमरी स्कूल: 

इस योजना के तहत कानपुर ( देहात ) के 1933 सरकारी प्राथमिक और जूनियर स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित किया जायेगा और उनमें सभी प्रकार की सुविधाएं विकसित  करके बच्चो को सरकारी स्कूल में दाखिला लेने और पढ़ रहे बच्चो को वही बने रहने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा।  सरकारी स्कूलों की शक्ल सूरत सुधारने हेतु मुख्यमंत्री द्वारा की गयी इस पहल का सभी लोग स्वागत कर रहे हैं।

Uttar Pradesh Kayakalp Yojana

Kayakalp Yojana 2022

 उत्तर प्रदेश योगी सरकार के माध्यम से यह योजना शुरू की गयी है इस योजना के अंतर्गत राज्य के प्राथमिक एवं जूनियर विद्यालयों की स्थिति में विशेष रूप से बदलाव किया जायेगा। राज्य में 1933 से बने हुए सभी सरकारी विद्यालयों की योजना के तहत कार्य किया जायेगा। सभी पुराने विद्यालय कॉन्वेन्ट स्कूल के रूप में परिवर्तित किये जायेंगे। कायाकल्प योजना के तहत जिला प्रशाशन की ओर से तैयारियां शुरू की गयी है। बेसिक एजुकेशन ऑफिसर के माध्यम से कायाकल्प योजना के अंतर्गत होने वाले सभी कार्यों की देखरेख की जाएगी।

यूपी कायाकल्प योजना का विस्तार

योजना के अंतर्गत सभी सरकारी प्राथमिक एवं जूनियर हाई स्कूलों की योजना के तहत स्वच्छ शौचालय निर्माण की व्यवस्था ,डेंटिंग पेंटिंग का कार्य ,पीने के लिए स्वच्छ पानी की व्यवस्था, दिव्यांग रैंप बाउंड्रीवाल, ब्लैक बोर्ड, पौध रोपण, विद्यालय में विभिन्न महापुरुषों के चित्र एवं अन्य प्रकार की आकर्षक पेंटिंग बनाने का कार्य किया जायेगा। 1933 से बने सभी विद्यालयों की रुपरेखा कॉन्वेन्ट स्कूलों के रूप में बदल दी जाएगी।

यह भी पढ़े

Tarbandi Anudan Yojana Rajasthan 2022: Tarbandi Yojana Registration

Mera Pani Meri Virasat 2022: मेरा पानी मेरी विरासत योजना ऑनलाइन आवेदन,

कायाकल्प योजना के लाभ, Kayakalp Yojana 2022 profit

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को योजना के तहत स्कूल की नई रूप रेखा देखने को मिलेगी। इस प्रक्रिया के माध्यम से बच्चे पढाई के लिए आकर्षित होंगे। एवं सरकारी स्कूलों में सभी सुविधा उचित प्रकार से उपलब्ध होने पर बच्चों की संख्या में वृद्धि होगी। यह सरकारी स्कूलों की स्थिति में सुधार करने के लिए योगी सरकार के द्वारा एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थी उत्साह के साथ पढाई हेतु प्रेरित होंगे

 

E shramik card kaise banaye mobile se 2022, मोबाइल से श्रमिक कार्ड बनाये 5 मिनट में

योगी सरकार की नई Kayakalp Yojana  कार्य जल्द पूरा होने की उम्मीद

इस कार्य को पूरा करने हेतु कानपुर (देहात) के प्राथमिक शिक्षा विभाग ने कमर कस ली है। विभाग अपने स्तर पर इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा करवाना चाहता है। इस योजना (Kayakalp Yojana 2022) की गति पंचायती चुनावो के कारण मंद हो गयी थी परन्तु अब पंचायती चुनाव निपट जाने के कारण  इसकी पुनः तीव्र गति से पूरा होने की उम्मीद है। प्राथमिक शिक्षा विभाग ने इस योजना के अंतर्गत किये जाने वाले कार्यो की बिंदुवार सूची  पंचायती राज विभाग को सौंप दी है जिसके तहत स्कूलों का कायाकल्प किया जाना है।

Kayakalp Yojana 2022 में शामिल काम

  • पानी की समुचित व्यवस्था 
  • हेतु ख़राब हैंडपंपों को सही करना ,
  • सुरक्षा हेतु बॉउंड्री वाल ,
  • रंग रोगन के साथ आकर्षक पेंटिंग जैसे कार्य इस योजना का हिस्सा है।

इन कार्यो को पूरा करने हेतु युद्धस्तर  पर कार्य किया जा रहा है जिससे इनका जल्द पूरी होने की उम्मीद है। 

कायाकल्प योजना उत्तर प्रदेश का उद्देश्य 

इस योजना से उन गरीब परिवारों जिनके बच्चे आर्थिक समस्या के कारण  महंगे निजी विद्यालयों में दाखिला नहीं ले पाते के लिए उम्मीद की किरण जगी है।  अब उन्हें भी आस है की सरकारी स्कूलों में   निजी स्कूलों जैसी सुविधाएं होने के कारण उनके बच्चे भी सुनहरा भविष्य बनाने में समर्थ होंगे।  आम आदमी जो निजी स्कूलों की महंगी फीस देने में असमर्थ होने के कारण हताश थे उनके लिए ये योजना किसी वरदान सरीखी है। 

शेयर करें

Leave a Comment