One Station One Product Scheme | एक स्टेशन एक उत्पाद योजना 2022

One Station One Product Scheme | एक स्टेशन एक उत्पाद योजना | वन स्टेशन, वन प्रोडक्ट’ योजना | Ek station ek utpadh yojana

One Station One Product Scheme: हेलो दोस्तो आपका स्वागत है हमारी वेबसाइट indiasevak.com में आज हम बात करेंगे राजस्थान में एक नई योजना एक स्टेशन एक उत्पाद योजना के बारे में जानेंगे। Ek station ek utpadh yojana क्या है, किसको इस योजना का लाभ मिलेगा कैसे आप इसमें अपने उत्पाद बेच सकते है ।

One Station One Product Scheme

स्थानीय उत्पाद व व्यापार को प्रोत्साहन देने के लिए रेलवे ने “एक स्टेशन एक उत्पाद” योजना के तहत स्टेशन पर स्थानीय उत्पाद की प्रदर्शनी-सह-स्टॉल लगाने हेतु प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं।

प्रधानमंत्री और रेल मंत्री की पहल पर भारतीय रेलवे में स्थानीय उत्पाद व व्यापार को प्रोत्साहन देने के लिए एक स्टेशन एक उत्पाद योजना की शुरुआत की गई है।

एक स्टेशन एक उत्पाद योजना क्या है

छोटे स्टेशन के प्लेटफार्मों पर स्थानीय उत्पादन की सामान उपलब्ध होंगे। यहां से ट्रेन में सफर करने वाले यात्री व आसपास के लोग आसानी से खरीद सकते हैं।

रेलवे ने केंद्र सरकार के लोकल फॉर वोकल विजन को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय उत्पादकों को बाजार उपलब्ध करवाने की दृष्टि से एक स्टेशन एक उत्पाद कियोस्क के आवंटन की अधिसूचना जारी कर दी है। योजना के अंतर्गत जोधपुर मंडल के 100 रेलवे स्टेशनों पर स्थानीय उत्पादों की कियोस्क खुलेगी। मंडल रेल प्रबंधक स गीतिका पांडेय ने बताया कि जोधपुर मंडल के चुनिंदा 100 स्टेशनों पर 15 -15 दिनों के लिए लोकल उत्पादों की बिक्री के लिए स्टाल कियोस्क का लघु उद्यमियों को आवंटित करने की अधिसूचना जारी की गई है

Ek station ek utpadh yojana Highlights

योजना का नाम एक स्टेशन एक उत्पाद योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी राज्य सरकार द्वारा
लाभार्थी स्थानीय नागरिकों को
विभाग रेलवे विभाग
उद्देश्य स्थानीय उत्पादकों को बाजार उपलब्ध करवाना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ ऑफलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट भारतीय रेल

 

वन स्टेशन, वन प्रोडक्ट’ योजना का उद्देश्य

इस योजना का उद्देश्य रेलवे परिसर का उपयोग कर स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देना है। रेलवे के इस प्रयास से स्थानीय उत्पाद, हस्तशिल्प व हथकरघा व्यवसाय से जुड़े उद्यमों के लिए बेहतर अवसर विकसित करने में मदद मिलेगी और रेल यात्रियों के लिए भी स्थानीय उत्पाद की जानकारी होने के साथ ही उन्हें उपलब्ध भी हो सकेगा।

यह भी पढ़े

Rajasthan Tarbandi Yojana 2022 | राजस्थान तारबंदी योजना ऑनलाइन फॉर्म

Mukhyamantri Nirogi Rajasthan scheme: मुख्यमंत्री निशुल्क निरोगी योजना 2022

Indira Gandhi Sheri Rojgar Guarantee Yojana 2022: ऑनलाइन आवेदन पात्रता

Jan aadhar card mobile number update 2022: जन आधार अपडेट कैसे करें?

One Station One Product Scheme benifits लाभ

  • छोटे स्टेशनों के प्लेटफार्मों पर स्थानीय उत्पादन के स्टाल लगाया जाना है।
  • ट्रेनों में सफर करने वाले यात्री, स्थानीय जनता आसानी से खरीदारी कर सकते हैं
  • लोकल फॉर वोकल विजन को बढ़ावा देना
  • जोधपुर मंडल के 100 रेलवे स्टेशनों पर स्थानीय उत्पादों की कियोस्क खुलेगी
  • इस योजना से कुटीर उद्याेग काे भी मिलेगा बढ़ावा
  •  गांव के छोटे किसानों, कुटीर उद्योग से जुड़े लोगों को भी रेलवे उपलब्ध कराने की योजना 
  • प्रधानमंत्री मेक इन इंडिया को बढ़ावा देना

राजस्थान प्रमुख स्टेशन व उत्पाद

One Station One Product Scheme

योजना के अंतर्गत जोधपुर मंडल के 100 रेलवे स्टेशनों पर स्थानीय उत्पादों की कियोस्क खुलेगी। मंडल रेल प्रबंधक स गीतिका पांडेय ने बताया कि जोधपुर मंडल के चुनिंदा 100 स्टेशनों पर 15 -15 दिनों के लिए लोकल उत्पादों की बिक्री के लिए स्टाल कियोस्क का लघु उद्यमियों को आवंटित करने की अधिसूचना जारी की गई है।

  • जोधपुर- बंधेज व प्रिंट साड़ी
  • नागौर- कसूरी मेथी
  • पाली मारवाड़- पापड़ व भुजिया
  • मारवाड़ भीनमाल- मोजड़ी आइटम
  • जैसलमेर- पीला पत्थर व नक्काशीदार हैंडीक्राफ्ट आइटम
  • राइकाबाग- मथानिया की मिर्च
  • भगत की कोठी- दरी कारपेट व हैंडीक्राफ्ट आइटम
  • लाडनूं-सौंफ व सुपारी
  • मकराना– मार्बल व मार्बल निर्मित हैंडीक्राफ्ट आइटम
  • बाड़मेर -अजरक प्रिंट व टेक्सटाइल आयटम
  • नोखा- पापड़ व भुजिया खाद्य आइटम
  • फलोदी – मोजड़ी (फुटवियर)
  • डेगाना – पापड़ भुजिया खाद्य पदार्थ
  • जालोर- मोजड़ी फुटवियर आइटम
    मेड़ता रोड- कठपुतली व हैंडीक्राफ्ट.

Rajasthan One Station One Product yojana list

जोधपुर, जैसलमेर, पाली मारवाड़, भगत की कोठी, नागौर, नोखा, बाड़मेर,मेड़ता रोड, रामदेवरा, मकराना, डेगाना, बालोतरा, राइकाबाग, सुजानगढ़, कुचामन सिटी, जालौर, मारवाड़ भीनमाल, गोटन, बासनी, पोकरण, लूणी, डीडवाना, लाडनूं, फलोदी, देशनोक, श्री भादरिया लाठी, समदड़ी, रेण, बायतु, आशापुरा गोमट, बालवाड़ा, बिशनगढ़, बाकरा रोड, भीकमकोर, बालसमंद, भीमरलाई, बनाड़ ,बोमादड़ा, बोरावड, बदवासी, छोटी खाटू, धनेरा, दूधिया, गच्छीपुरा, गोविंदी मारवाड़, हनवंत,जालसू, जारी, जानियाना, जेठा चांधन, जागनाथ जी, जेनाल, जोधपुर कैंट, जाजीवाल, केरला, खाटू, खजवाना, कुचामन, मारवाड़ कोरी, किरोदा, कवास, खारिया खंगार, लेदरमेर, मारवाड़ बागरा, मारवाड़ बिठड़ी, मालवाड़ा, मारवाड़ छापरी, मंडोर, मारवाड़ मूंडवा, मेड़ता सिटी, मारवाड़ खारा, मोकलसर, महामंदिर, मारवाड़ मथानिया, मोदरान ,मारवाड़ रतनपुर, मारवाड़ लोहावट, ओढाणिया चाचा, ओसिया, पड़िहारा, पीपाड़ रोड, पारलू, राखी, राजकियावास, श्रीबालाजी, सांभर, सूरपुरा, हरलाया, शैतानसिंह नगर, सतलाना, तिंवरी, सालावास, थैयात हमीरा, ताल छापर व उत्तरलाई में कियाेस्क लगेंगे।

एक स्टेशन एक उत्पाद योजना आवेदन कैसे करे

राजस्थान के सभी आवेदक जो इन स्टेशन की सूची में आते है और वो अपना उत्पाद बेचना चाहते है वो नजदीकी स्टेशन मास्टर कार्यलय में जाकर फॉर्म लेकर आवेदन कर सकते है

इच्छुक लाभार्थियों से प्राप्त आवेदनों को सूचीबद्ध कर लॉटरी के लिए तैयार करेगी। कियोस्क का आवंटन किया जाएगा। लाभार्थियों को 7 जून तक संबंधित स्टेशन के स्टेशन मास्टर कार्यालय में आवेदन जमा करना होगा। पंजीयन शुल्क एक हजार रुपए निर्धारित है। 

शेयर करें

Leave a Comment